Navratri Kanya Pujan Vidhi 2023: महा अष्टमी-नवमी पर कन्या पूजन कैसे करें? जानिए पूरी विधि !!

Navratri Kanya Pujan Vidhi 2023: चैत्र नवरात्रि हो या शारदीय नवरात्रि, देवी मां की पूजा तभी पूर्ण मानी जाती है जब कन्या पूजन किया जाए। नवरात्रि के दौरान कन्या पूजा का विशेष महत्व है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ नियम भी हैं जिनका विशेष ध्यान रखना आवश्यक है?आज हम आपको बताएँगे की नवरात्रि में कन्या पूजा कैसे करें (Navratri Kanya Pujan Vidhi 2023)? उसकी विधि (Navratri Kanya Pujan Vidhi 2023) क्या है? कितने साल की लड़कियों को कन्या खिलाना चाहिए? और उनको क्या खिलाएं? और उन्हें क्या भेट दें?

खबरें व्हाट्सएप पर पाने के लिए जुड़े Join Now
खबरें टेलीग्राम पर पाने के लिए जुड़े Join Now
खबरे फेसबुक पर पाने के लिए जुड़े Join Now
Navratri Kanya Pujan Vidhi 2023

कन्या किस उम्र की बुलाएँ?

कन्याये जितनी छोटी उम्र की होगी उतना ही ज्यादा प्रभाव पड़ता है आपके घर पर। जैसे की 2 साल की बच्ची है या 5 साल की बची 5 साल से कम की हो तो सबसे अच्छा है। वैसे तो 10 साल से कम की भी कन्या हम बुला सकते हैं लेकिन 5 साल तक की कन्याओं का बहुत ज्यादा फल मिलता है।

यह भी देखे  भादौ का महीना 31 अगस्त से 29 सितंबर तक: इस महीने 18 दिन तीज त्योहार हैं। भाद्रपद भगवान गणेश, श्रीकृष्ण और विष्णु की पूजा का महीना है।

कितने कन्या बुलाएँ?

जब आप ९ के व्रत रख रहे हो या फिर 9 दिन की पूजा कर रहे हो नवरात्रि में तो कन्या पूजन का बहुत ज्यादा महत्व होता है। अगर बात करें की आपको कन्या कितनी बुलानी चाहिए तो नौ कन्या आपको बुलाना चाहिए और साथ ही एक भैरो यानी कि एक लड़के को जरूर बुलाये।

कन्याओं को क्या खिलाएं ?

कन्या पूजन में सबसे उत्तम पूरी हलवा और चने का भोग होता है। लेकिन आप भोजन में कुछ भी बनायें वो बिना प्याज लहसुन की होनी चाहिए। अगर आपके यहां सब्जी नहीं खिलाई जाती तो खीर पूरी या हलवा पूरी जरूर खिलाये।

कन्या पूजन विधि (Navratri Kanya Pujan Vidhi 2023)

  • सबसे पहले आप जब भी कन्याओं के घर पर बुलाए तो उनके चरण जरूर धोएं। सारी कन्याओं के पैरों को अच्छी तरीके से धोएं।
  • पैर धोने के लिए आप पहले किसी पत्र में थोड़ा सा जल ले उसमे थोड़ा दूध और गंगाजल मिलाएं। फिर कन्याओं के पैरों को धोएं।
  • पैरों को धोने के बाद जल को सारे घर में कोने कोने में छिड़क दीजिए और फिर बचा हुआ जल को आप किसी पेड़ में डाल दे।
  • यह बहुत ही’शुभ होता है आपका घर पवित्र हो जाता है।
  • अब आपको उनके पैर धोने के बाद उनको टीका और अक्षत लगाना है। लाल चुनरी पहनाएं और उनको भोजन कराएं।
  • कन्यांओं को खाना खिलाने के बाद उन्हें खाली हाथ न भेजें।
  • मां दुर्गा स्वरूप कन्याओं को भोजन कराने के बाद दक्षिणा दें और उनके पैर छूकर आशीर्वाद लें।
  • दक्षिणा में आपको एक पोटली में चावल दे सकते हैं या अन्य कोई गिफ्ट हो वह जरूर दें या कोई फल दें कोई भी गिफ्ट आप ले सकते हैं
  • इसके बाद खुशी खुशी उनको विदा करें, ताकि अगले साल फिर आपके घर माता रानी का आगमन हो।
यह भी देखे  Chhath Puja Kosi Bharne ki Vidhi: छठ पूजा कोसी कैसे भरते हैं? छठ पूजा कोसी क्यों भरा जाता है?

अगर कन्या न मिले तो क्या करें?

  • अगर आपको कन्या नहीं मिल रही है तो ऐसे में आप घर से भोग बना करके हवन के बाद उसको प्रसाद को रुप में ९ जगहों पर रख सकते हैं। या आप उनके घर भी जा कर देकर आ सकते हैं।
  • इसके अलावा अगर आपके घर में भी कोई कन्या 2 से 10 वर्ष के बीच में है तो आप उसे भी कन्या स्वरूप में पूजा कर सकते हैं और उसे भोग लगा सकते हैं।
  • अगर इसकी भी व्यवस्था नहीं हो पाए तो आप किसी भी मंदिर में जाकर नौ कन्या के भोजन और दक्षिणा के पैसे किसी माता रानी के मंदिर में दान कर सकते हैं।
  • या फिर आप जरूरतमंदों में कन्या भोजन के सामान जैसे की पूरी के लिए आटा, चावल, दाल, चने या मिष्ठान अपनी क्षमता के अनुसार दान कर सकते हैं
यह भी देखे  Navratri 8th Day 2023: नवरात्रि के आठवें दिन होगी मां महागौरी की पूजा। जानें शुभ मुहूर्त, कन्या पूजन, पूजा विधि, मंत्र, रंग, भोग, आरती और कथा

About Author

Navratri Kanya Pujan Vidhi 2023: महा अष्टमी-नवमी पर कन्या पूजन कैसे करें? जानिए पूरी विधि !!मेरा नाम रोचक है और मुझे गर्व है कि मैं पांच साल से समाचार पत्रकारी का कार्य कर रहा हूँ। मेरा उद्देश्य हमेशा सत्य और न्याय की ओर बढ़ते जाने का है, और मैं खबरों को लोगों तक सटीकता और जानकारी के साथ पहुंचाने का संकल्प रखता हूँ।

मेरी पत्रकारिता के पाँच साल में, मैंने विभिन्न क्षेत्रों में रिपोर्टिंग की है, जैसे कि राजनीति, सामाजिक मुद्दे, विशेष खबरें, और व्यक्तिगत इंटरव्यू। मेरे काम का मूल मंत्र है कि सच्चाई को बिना जांचे बिना शरणागति दिए हर बार प्रकट किया जाना चाहिए।